स्वरोजगार योजनाओं के लक्ष्य पूर्ति के लिए आगें आएं बैंक – कलेक्टर रवीन्द्र चौधरी

0
701

स्वरोजगार योजनाओं के लक्ष्य पूर्ति के लिए आगें आएं बैंक – कलेक्टर रवीन्द्र चौधरी

समय INDIA 24, सीधी। कलेक्टर रवीन्द्र कुमार चौधरी द्वारा डीएलसीसी की बैठक में स्वरोजगार योजनाओं की प्रगति की विभागवार बैंकवार विस्तृत समीक्षा की गई। कलेक्टर श्री चौधरी ने स्वरोजगार योजनाओं के लक्ष्यों की पूर्ति के लिए सभी विभागों एवं बैंकों को सम्मिलित रूप से प्रयास करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर श्री चौधरी ने कहा कि सीधी जिले में कृषि आधारित तथा वन आधारित उद्योगों में अपार संभावनाएं हैं। सीधी जिला प्राकृतिक रूप से एक संपन्न जिला है। यह की जलवायु तथा टोपोग्राफी उद्यानिकी पशुपालन, मछली पालन के लिए उपयुक्त है। यदि यहां खाद्य प्रसंस्करण से जुड़े उद्योगों को स्थापित करें तो उनके सफल होने की प्रबल संभावनाएं हैं। कलेक्टर ने कहा कि पीएमएफएमई योजना अंतर्गत जिले में आम का चुनाव किया गया है। सीधी में आम के उत्पादन को देखते हुए यहां आम से संबंधित प्रसंस्करण उद्योगों को स्थापित किया जाना है। कलेक्टर ने बताया कि इसी प्रकार एक जिला एक उत्पाद योजना अंतर्गत जिले में कोदो-कुटकी तथा दरी-कालीन का चयन किया गया है।

👉 अनुदान व विज्ञापन भुगतान हेतु यहाँ क्लिक करें 👈

जिले के समरदह तथा टमसार में कोदो प्रसंस्करण युनिट का कार्य जारी है तथा जिले के कोदो की सोनांचल कोदो के नाम से ब्रांडिंग भी की जा रही हैं। उन्होने बैंकर्स को इन गतिविधियों में आगे आकर सहभागिता के लिए कहा है। कलेक्टर ने जिले में पशुपालन एवं मछली पालन गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड प्रदान करने के निर्देश दिए हैं।

https://samayindia24.com75-वें-स्वतंत्रता-दिवस-कि-हा/

अपर कलेक्टर हर्षल पंचोली द्वारा पीएम स्वनिधि योजना अंतर्गत पथ विक्रेताओं के 10 हजार रूपये तक के ब्याज मुक्त ऋण स्वीकृत एवं वितरित करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके साथ ही जिन हितग्राहियों ने 10 हजार रूपये के ऋण वापस कर दिए हैं उन्हे पात्रतानुसार 20 हजार रूपये के ऋण स्वीकृत करने के निर्देश दिए गए हैं।बैठक में सीईओ जिला पंचायत राहुल नामदेव धोटे, एलडीएम सहित स्वरोजगार योजनाओं का क्रियान्वयन करने वाले विभाग तथा बैंको के प्रतिनिधि उपस्थित रहें।

https://samayindia24.comबिहान-संवाद-15-अगस्त-2021-विशेष/