स्पाइस मनी का परिवर्तनकारी प्रभाव – डिजिटल, वित्तीय, रोजगार और सेवा

0
471

स्पाइस मनी का परिवर्तनकारी प्रभाव – डिजिटल, वित्तीय, रोजगार और सेवा

समय INDIA 24 (ए. के. “स्वतंत्र”) देश में डिजिटल भारत और आत्म निर्भर भारत अभियान का सफल होना ग्रामीण भारत को सुदृढ़ और विकसित करने से संभव है। आज देश भर में कई फिनटेक कंपनिया ग्रामीण और अर्धशहरी क्षेत्रों में डिजिटल, वित्तीय, ई – रिटेल सेवा को लेकर काम कर रही है। इसका यह परिणाम है कि स्पाइस मनी को भारत की सबसे बड़ी ग्रामीण फिनटेक कंपनियों में से देखा सकता है। स्पाइस मनी का परिवर्तन कारी प्रभाव ने वित्तीय लेन देन को ग्रामीण और अर्ध शहरी क्षेत्रों में सरल बनाया है। उपभोक्ताओं कि बैंकिंग व वित्तीय लेन देन कि दूरियां कम होने लगी है। स्पाइस मनी B2B2C ग्रामीण फिनटेक, डीजी स्पाइस टेक्नालॉजी की पूर्ण स्वामित्व वाली एक सहायक कंपनी ग्रामीण भारत में अपनी पहुंच विस्तार और भारत की वंचित आबादी की सेवा जैसे उद्देश्यों को लेकर काम करती दिख रही है।

बैंक कि लम्बी कतारें और लॉक डाउन से वृहद स्तर पर उपभोक्ताओं को यूपीआई जैसी सेवाओ ने आकर्षित किया है। ऐसे में स्पाइस मनी का नकद से डिजिटल लेन देन ग्रामीण भारत कि अर्थव्यवस्था को मजबूत कर सकता है। ऐसा मानना है कि आज देश के करोड़ों संख्या में उपभोक्ता स्पाइस मनी से जुड़ चुके हैं। वर्तमान स्थिति में भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में तेजी के साथ स्पाइस मनी का सेवा केंद्र पहुंच रहा है और रोजगार के अवसर मिल रहे हैं।

स्पाइस मनी के फाउंडर दिलीप मोदी और उनकी टीम ने आज कई डिजिटल व वित्तीय सेवाओ को एक मंच में ला दिया है। स्पाइस मनी ऐप, एईपीएस, डीएमटी, स्पाइस एटीएम, एमपीओएस, भीम आधार पे, एलआईसी पेमेंट, कैश कलेक्शन, इंश्योरेन्स, ट्रेवल यूनियन के साथ होटल बुकिंग, बस टिकट, ट्रेन – फ्लाइट टिकट सहित दर्जनों सेवाओ के साथ स्पाइस मनी ग्रामीण उद्यमी, प्रवासी श्रमिक, किराना स्टोर मालिक और गृहिणियों को शून्य निवेश पर स्वयं कि डिजिटल दुकान शुरू करने और स्पाइस मनी अधिकारी नेटवर्क में शामिल होने का अवसर दे रहा है।