सीधी – फरीदा बेगम के लिए जीवन रक्षक बने पिन्टू दुबे 

0
1544

फरीदा बेगम के लिए जीवन रक्षक बने पिन्टू दुबे 

अमित कु. गौतम “स्वतंत्र” (8839245425) समय INDIA 24 @ सीधीमजहबी एकता  की ये कहानी मध्यप्रदेश के सीधी जिले  की है। सीधी शहर के जामा मस्जिद के पास रहने वाली फरीदा बेगम गर्भवती (Pregnant) थी और ऑपरेशन से होने वाले प्रसव के दौरान O निगेटिव खून कि आवश्यकता थी। खून के लिए परिजनो ने सभी माध्यमों से सहयोग कि अपील कि लेकिन खून कि उपलब्धता नहीं हो पाई। जब दूसरे दिन शाम को शहर के एक दूसरा मोहल्ला अमहा में रहने वाले पद्मधर दुबे उर्फ पिन्टू दुबे को जानकारी मिली तो उन्होंने तत्काल पीड़ित के परिजनों से संपर्क कर ब्लड बैंक में खून दान किया। यह सहयोग श्री दुबे ने तब किया जब कोरोना वायरस (Corona Epidemic) के खतरे को देख हर कोई अपने – अपने घरों में बंद है। सरकार ने भी प्रदेश भर में लॉकडाउन (Lockdown) कर रखा है। हिन्दू युवक ने न सिर्फ अपना खून देकर मुस्लिम महिला कि जान बचाई बल्कि हिन्दू- मुस्लिम एकता के साथ – साथ इंसानियत की भी मिसाल पेश की है।

महिला का परिवार हुआ भावुक – मुस्लिम महिला के परिवार से मोहम्मद करीम ने भी पद्मधर दुबे उर्फ पिन्टू दुबे को धन्यवाद देते कहा जब वो चारों तरफ से निराश हो गए थे। तब जीवन रक्षक के रूप में आपका सहयोग प्राप्त हुआ। पद्मधर दुबे उर्फ पिन्टू दुबे जी के लिए कोई शब्द नहीं है यदि उनकी माने तो हिन्दू और मुसलमान दोनों के खून का रंग एक है।