सीधी जिले कि महिला ने दिखाया अदम्य साहस, बदमाशो से लोहा लेने ट्रेन से कूदी

0
829

सीधी जिले कि महिला ने दिखाया अदम्य साहस, बदमाशो से लोहा लेने ट्रेन से कूदी

बांदा से रेफर, जबलपुर में हुआ ज्योति हरीश सिंह का सफ़ल ऑपरेशन

समय INDIA 24 @ सीधी। रेल में यात्रियों के साथ लूट और चोरी की वारदातें लगातार बढ़ रही है। महाकौशल एक्सप्रेस की एसी (एयर कंडीशन) में यात्रा कर रही महिला के साथ मंगलवार रात्रि तकरीबन 1:30 बजे के करीब अज्ञात बदमाशो द्वारा लूट कि वारदात को अंजाम दिया गया।

चीन के संघाई में पीएचडी अध्ययन कर रही सीधी निवासी ज्योति हरीश सिंह बघेल जालंधर पंजाब में 15 दिवसीय वर्कशाप पूर्ण कर सतना आ रही थी। यात्रा के दौरान उत्तरप्रदेश एवं मध्यप्रदेश सीमावर्ती क्षेत्र बांदा के डिंगवाही रेलवे स्टेशन के नजदीक ट्रेन की गति धीमी होने पर युवक उसका बैग उठाकर भागते उसके पहले महिला ने झप्पटा मार कर बैग वापस ले लिया। लेकिन उसके बाद बदमाशो ने फिर छीना झपटी कर बैग लेकर चलती ट्रेन से कूद गए। महिला यात्री ज्योति सिंह ने भी अपना सामान वापस लेने बदमाशो के पीछे ट्रेन से कूद पड़ी इस दौरान उन्हें कमर पर गंभीर चोटें आईं हैं। जिसकी सूचना प्राप्त होने पर घटना स्थल से दूर सेवा दे रहे स्टेशन मास्टर राजेश कुमार ने मौके पर पहुंच कर तत्काल जिला अस्पताल में भर्ती कराने का प्रबंध किया । अभी तक मिली जानकारी के अनुसार जीआरपी को बैग खेत से प्राप्त हुआ है। बैग में मोबाईल लेपटॉप सुरक्षित है और नगदी जेवरात ईयर फोन नही मिले है। फिलहाल ज्योति सिंह को जिला चिकित्सालय बांदा से रेफर कर दिया गया है और अब जबलपुर के शैल्वी हॉस्पिटल में उपचार चल रहा है।

इनका कहना है –

डिंगवाही रेलवे स्टेशन से करीब 500 मीटर दूर खड़ी माल गाड़ी के गार्ड द्वारा मुझे घटना के संबंध में सूचना मिली। तत्काल पुलिस सहायता और एबुलेंस सहायता के लिए सूचित किया गया। ट्रेन में छूट गए यात्री के सामान को सुरक्षित चित्रकूट स्टेशन में रखा दिया गया है। महिला यात्री को चोटें थी जिससे एक कर्मचारी भी मैने साथ में भेज दिया था जिससे कोई अन्य असुविधा न हो।

– राजेश कुमार- स्टेशन मास्टर डिंगवाही रेलवे स्टेशन

ऑपरेशन पूर्ण किया जा चुका है। पेशेन्ट स्थिर है।

– डॉ स्नेहल शेरकर – शैल्वी हॉस्पिटल, जबलपुर