सीधी – अंकुर अभियान अंतर्गत पौधरोपण कार्यक्रम जारी

0
307

अंकुर अभियान अंतर्गत पौधरोपण कार्यक्रम जारी

प्रधान जिला न्यायाधीश, कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने महाविद्यालयों में किया पौधरोपण 

भावी पीढ़ी से इस महाअभियान में सहभागिता की अपील की

समय INDIA 24 @सीधी जिले में अंकुर अभियान के अंतर्गत एक से पांच मार्च तक वृहद पौधरोपण किया जा रहा है। सीधी जिले में भी शासकीय विभागों, स्वैच्छिक, सामाजिक संगठनों एवं आमजन के सहयोग से पौधरोपण महाअभियान जारी है।

जिले के युवाओं की इस अभियान में सहभागिता बढ़ाने के उद्देश्य से प्रधान जिला न्यायाधीश अमिताभ मिश्र, कलेक्टर मुजीबुर्रहमान खान तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुकेश कुमार श्रीवास्तव द्वारा संजय गांधी स्मृति महाविद्यालय तथा कन्या महाविद्यालय में छात्र-छात्राओं के साथ पौधरोपण किया गया। उन्होने इस अवसर पर पर्यावरण के संरक्षण एवं संवर्धन का संदेश देते हुए युवा पीढ़ी से इस अभियान में बढ़चढ़कर हिस्सेदारी करने की अपील की।

उन्होने कहा कि पर्यावरण का संरक्षण एवं संवर्धन हम सभी की सामाजिक जिम्मेदारी है। किसी भी अभियान की सफलता नागरिकों विशेषकर युवाओं की सहभागिता पर ही निर्भर करती है। यदि हम सभी-अपने आस-पास पौधे लगाएं और उनकी सुरक्षा करें तभी यह अभियान सफल होगा। उन्होने कहा कि पेड़-पौधों के बिना जीवन की कल्पना किया जाना भी संभव नहीं है। वृक्ष हमें प्राणवायु ऑक्सीजन के साथ कई बहुमूल्य उपहार देते हैं। हम प्रकृति से बहुत कुछ लेते हैं लेकिन हमें अब उसके संवर्धन के लिए भी प्रयास करने चाहिए।

इस अवसर पर कलेक्टर ने कहा कि अभियान अंतर्गत किए जा रहे पौधरोपण को वायुदूत एप पर भी अपलोड करें। इस पौधे की सुरक्षा करे और 30 दिवस बाद पुनः उसकी फोटो अपलोड करें। इस प्रकार पौधे की बेहतर देख रेख संभव हो सकेगी।  इस अवसर पर न्यायाधीशगण उपखण्ड अधिकारी गोपद बनास, महाविद्यालयों के प्राचार्य, प्राध्यापक, नगरपालिका के अधिकारी एवं छात्र-छात्राओं ने भी पौधरोपण किया।

कलेक्टर ने किया एसआईटी कॉलेज में पौधरोपण

इसके पूर्व अंकुर अभियान अंतर्गत कलेक्टर मुजीबुर्रहमान खान द्वारा एसआईटी कालेज में पौधरोपण किया गया। इस अवसर पर भोला गुप्ता, मुख्य नगर पालिका अधिकारी कमला कोल, जन अभियान परिषद के जिला समन्वयक शिवदत्त उर्मलिया सहित कॉलेज प्रबंधन एवं छात्र छात्राओं द्वारा पौधरोपण किया गया।कलेक्टर ने कहा कि पौधों को लगाने के साथ-साथ इनकी सुरक्षा भी महत्वपूर्ण है। यदि हम अपने लगाए पौधों को बचाने में सफल रहते हैं तभी यह अभियान सच्चे अर्थों में सफल होगा।