पढ़ाई से पहले स्कूल में झाड़ू लगाते दिखे छात्र

0
555

पढ़ाई से पहले स्कूल में झाड़ू लगाते दिखे छात्र

स्कूल आते ही छात्र लगाते है झाड़ू, विद्यालय पर समय में नहीं पहुंचते शिक्षक

समय INDIA 24 (8839245425) सीधी। जिले के आदिवासी क्षेत्र कुसमी में संचालित शासकीय प्राथमिक विद्यालयो में छात्रों को पढ़ाई से पहले झाड़ू लगाना पड़ता है। छात्र विद्यालय पहुंचते है और वहा शिक्षक बच्चो को झाड़ू थमा देते है। कुसमी विकासखंड जिले का आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र है वहा शिक्षा का स्तर बढ़ाने के बजाय शिक्षा विभाग के आला अधिकारी अपनी जिम्मेवारी से विमुख दिख रहे हैं। भले ही सरकारी स्कूलों में बच्चों से काम कराने पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी हो। उसके बाद भी प्राथमिक स्कूल के शिक्षक बच्चों से झाड़ू लगवाने से बाज नहीं आ रहे है।  बता दे कि कुसमी आदिवासी विकासखंड अंतर्गत ऐसे कई प्राथमिक विद्यालय हैं जहां आदिवासी छात्र – छात्राओं को झाड़ू लगाना पड़ता है। बीते दिन जनपद शिक्षा केंद्र अंतर्गत शासकीय कन्या प्राथमिक विद्यालय पोंडी में छात्र झाड़ू लगाते देखे गए और पानी व्यवस्था स्वयं कर रहे थे। छात्रों ने बताया कि विद्यालय में पदस्थ शिक्षक देर से पहुंचते है और स्कूल में प्रतिदिन झाड़ू लगाना पड़ता है। प्रदेश में बेहतर शिक्षा व्यवस्था को लेकर शासन भले ही दम्भ भर रही हो और छात्रों के लिए बैठने की व्यवस्था, सफाई कर्मी की उपलब्धता व स्वसहायता समूहों के माध्यम से काम ले रही हो लेकिन जिले के कुसमी क्षेत्र में विद्यालय में पढ़ने वाले छात्रो को स्वावलंबी बनना पढ़ रहा है। ऐसे में जिले के शिक्षा विभाग में पदस्थ आला अधिकारियों के कार्यप्राणी में सवाल खड़े होते दिख रहे हैं।