नाबालिग का शव चौथे दिन बाद सूखानाले से हुआ बरामद

0
370

नाबालिग का शव चौथे दिन बाद सूखानाले से हुआ बरामद

हत्या या दुर्घटना का पीएम रिर्पोट के बाद होगा खुलासा – नगर निरीक्षक

अपराधियों पर लगाम कसने में पुलिस अक्षम, आमजनों में भय का महौल व्याप्त

समय INDIA 24 @सीधी। शुक्रवार की सुबह स्थानीय गोपालदास मार्ग सुखा पुल से महज कुछ ही दूरी पर 22 फरवरी को गुमशुदा हुए नाबालिग शिवम प्रजपति का शव बरामद हुआ। वरिष्ट चिकित्सकों की टीम के द्वारा मृतक का पीएम कराया गया। जहॉ चिकित्सको के द्वारा अंतिम निष्कर्ष तक ना पहुॅचने के कारण विसरा सागर भेजने की तैयारी की जा रही है। सागर से रिर्पोट आने के बाद ही मृत्यु की वास्तविक वजह स्पष्ट हो सकेगी। कोतवाली पुलिस द्वारा कई संदेहियों से अलग अलग स्तर पर पूॅछ तॉछ की जा रही है। हो रही चर्चा के आधार पर मृतक के पेट में पानी होने की पुष्टि हुई है एवं शव की स्थिती देख कर अनुमान लगाया जा रहा है कि शिवम की मृत्यु मंगलवार को पानी की वजह से हुई है। उक्त घटना सोची समझी साजिस है या फिर महज एक दुर्घटना इसका खुलासा पुलिस जल्द ही करने का दावा कर रही है।

अपराधियों का गढ़ बना जिला :- कुछ वर्ष पूर्व तक सबसे शांत जिले में सीधी का नाम हुआ करता था। बड़े एवं गम्भीर अपराध कभी कभार ही संज्ञान में आया करते थें किन्तु वर्तमान स्थिती इसके विपरीत हो चली है। ग्रामींण अंचलो से लेकर शहरी क्षेत्रों तक हर जगह गाली गलौच, मारपीट, नशा व्यापार, व्यभिचार, नाबालिगो को अगवा करना, चोरी जैसी घटनायें आम हो चली हैं। पीडि़तजन पुलिस के पास शिकायत लेकर पहुॅचते हैं किन्तु उनकी त्वरित न्याय की मंशा अधुरी ही रह जाती है। अब देखिए न हाल ही में बेटी नम्रता गुप्ता कुकड़ीझर प्रकरण में लेट लतीफी के चलते परिणाम काफी दुखद सामने आयें वहीं मंगलवार की शाम 22 फरवरी से शिवम प्रजापति उम्र 12 वर्ष लापता था और शुक्रवार की सुबह संदेही स्थल से ही शव बरामद होता है। आमजनों की माने तो इन दिनों ज्यादातर शिकायतकर्ता पुलिसकर्मियों के बद्जुबानी के शिकार होते हैं न्याय तो बहुत दूर की बात होती है।

परिजनों ने प्रशासन के प्रति निकाला आक्रोश ::-शुक्रवार की सुबह नाबालिग शिवम प्रजापित का शव सूखा पुल के समीप बरामद होने के बाद हजारो की संख्या में आमजन एकत्रित हुए और प्रशासन के ढुलमुल रवैया के प्रति जमकर आक्रोश प्रदर्शन किया गया। परिजनो के द्वारा आरोप लगाया गया कि इतनी बड़ी घटना के बाद भी कलेक्टर एसपी द्वारा कोई खोज खबर नही ली गयी। वहीं स्थल पर किसी प्रकार की अन्य कोई अनहोनी घटित ना हो इस दृष्टि से गायत्री तिवारी उपपुलिस अधीक्षक एवं टीम के द्वारा सुबह से लेकर दोपहर तक लगातार प्रयाश किये गयें साथ ही पीडि़तो की हर सम्भव मदद के भी प्रयाश किये गयें।

गऊघाट में हुआ दाह संस्कार :: – जिला प्रशासन की पहल पर मृतक शिवम प्रजापति का दाह संस्कार गऊघाट में कराया गया। बताया गया कि मर्चुरी भवन से गऊघाट तक शव एवं परिजनों लाने लेजाने कि व्यवस्था व दाह संस्कार की अन्य व्यवस्थायें भी प्रशासन द्वारा कराई गयीं।

इनका कहना है :-

शिवम प्रजापति की मृत्यु की वास्तविक वजह पीएम एवं विसरा रिर्पोट आने के बाद ही स्पष्ट हो सकेगी। शंका के आधार पर पुलिस कई संदेहियों से पूॅछ तॉछ कर रही है।

 – हितेन्द्र शर्मा, नगर निरीक्षक सीधी।

मेरे बच्चे को खोजने में पुलिस के द्वारा घोर लापरवाही बरती गई है। शिवम की हत्या की गई हैए मुझे त्वरित न्याय चहिए।

– शकुन्तला प्रजापति, मृतक की मॉ कोटहा सीधी।