जिले में बढ़ रहा अवैध रेत उत्खनन – परिवहन का कारोबार

0
372

जिले में बढ़ रहा अवैध रेत उत्खनन – परिवहन का कारोबार

रेत माफियो के हौसले बुलंद, प्रशासन का कार्यवाही करने से गुरेज

समय INDIA 24 @ सीधी। जिले में अवैध तरीके से रेत उत्खनन – परिवहन करने वाले माफ़ियो का आतंक व्याप्त है और प्रशासन अपनी लचर व्यवस्था को लेकर संतुष्टता कि चादर ओढ़े हुए है। अवैध उत्खनन माफ़िया प्रशासन को ही नहीं बल्कि एनजीटी के नियमो को भी ठेंगा दिखाने से गुरेज नहीं कर रहे है। रेत माफियों के हौसलें दिनों दिन बुलंद हो रहे हैं और डंके की चोट पर कई गुना रेट पर रेत का व्यापार किया जा रहा है। ओवर लोड व बिना टीपी रेत के परिवहन को देख अनुमान लगाया जा सकता है कि जैसे खनिज प्रशासन से हरी झंडी मिल चुकी हो। सूत्रों की मानें तो खनिज विभाग व रेत माफियाओं पर कलर युक्त पोशाक धारण करने वाले लोगों की विशेष मेहरवानी चल रही है जिसका परिणाम यह है की छमता से ज्यादा रेत परिवहन आये दिन होने के बाबजूद भी उचित विधिक कार्यवाही में विभाग द्वारा कोताही वरती जा रही है।

जिले में वैध ठेकेदार या अवैध रेत माफिया दोनो के द्वारा नदियों को बुरी तरह छलनी किया जा रहा है। प्रशासन को जानकारी होने बावजूद भी कार्रवाई नहीं होने से खनिज माफिया के लोग स्पष्ट कहने लगे हैं कि चाहे जो भी हो रेत एवं अन्य खनिज का अवैध कार्य करते रहेंगे। अवैध रेत उत्खनन और परिवहन का कारोबार करने वाले माफिया ग्रामीण मार्गो का उपयोग कर रहे है । सघन वस्ती होने से हर समय जान – माल का खतरा रेत माफियो के बेतरतीब चलने वाले वाहनों से बना रहता है। सूत्रों कि माने तो प्रशासन व खनिज विभाग के अधिकारी बढ़ रहे अवैध रेत कारोबार के विरुद्ध सख्त कार्यवाही करना नही चाहते। जिसका परिणाम यह है कि वैध खदानों में भी अवैध रूप से खनन का काम किया जा रहा है और सतत रेत खनन प्रबंधन दिशानिर्देशन की अनदेखी हो रही है।

इनका कहना है –

हमे शासन द्वारा वर्जन देने से मना किया गया है जिससे वर्जन नही दे सकती।

– दीपमाला त्रिपाठी, खनिज अधिकारी, सीधी

अवैध खनन – परिवहन का कारोबार प्रशासन के संज्ञान में चल रहा है। यही नही बल्कि वैध खदानों में भी अवैध तरीके से उत्खनन हो रहा है। खनिज अधिकारी खदानों का निरीक्षण करना नही चाहते न ही कार्यवाही। सत्ताधारी पार्टी के नेताओ का माफियों को संरक्षण प्राप्त है और अधिकारियों पर दबाव है!

– सतीश सिंह बघेल, जिला महामंत्री, कांग्रेस सीधी