जिले के कई पत्रकारों ने पुलिस अधीक्षक सीधी को सौंपा ज्ञापन

0
284

अरुण यादव, जयवर्धन सिंह समेत 47 व्यक्तियों के खिलाफ हुई शिकायत

जिले के कई पत्रकारों ने पुलिस अधीक्षक सीधी को सौंपा ज्ञापन

सोशल मीडिया में भ्रामक पोस्ट डालनें से जिले के पत्रकारों की हुई बदनामी

समय INDIA 24 @ सीधी। सोशल मीडिया में भ्रामक पोस्ट डालकर जिले के मीडियाकर्मियों को बदनाम करनें वाले व्यक्तियों के खिलाफ पुलिस प्रकरण दर्ज करानें को लेकर जिले केे कई पत्रकारों द्वारा पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपा गया।  इस संबंध में मीडिया से चर्चा करते हुए जिले के वरिष्ट पत्रकार स्तुति मिश्रा ने बताया कि अरुण यादव, जयवर्धन सिंह, जिगनेश मेवाणी, धनेश कुमार गौतम, युवा एकता मंच कवि प्रियांशु तिवारी, प्रवीण दुबेे, अभिषेक तिवारी, गौरव सिंह, राजूू सिंह चौहान, प्रेेम रनजही, प्रियांका शर्मा, अखिलेन्द्र मिश्रा, सत्यनारायण पटेल, अरविंद शर्मा कौशिक, सरगम रीति पाण्डेय, प्रवेश सिंह बघेल, अवधेश भार्गव, आकाश चौहान, विकास चौहान, रंजना मिश्रा,  सौरव शुुक्ला, चौहान विक्रम, विजयपाल पाठक, विनीत द्विवेदी, प्रज्ञा का पन्ना, नीरज पाण्डेय, पुष्पेन्द्र वर्मा आदि ने  अपने फेसबुक एकाउंट से जिले के सिटी कोतवाली थाने में पुलिस अभिरक्षा में धारा 151 के आरोपियों की अर्धनग्र फोटो बिना चेहरा छिपाए पोस्ट की थी। इसके साथ ही इनके द्वारा सोशल मीडिया में पोस्ट के दौरान सीधी के पत्रकारों, मीडियाकर्मियों को पुलिस ने किया नंगा, चौथा स्तंभ हुआ नंगा आदि भ्रामक जानकारी पोस्ट कर सामाजिक सौहार्द बिगाडऩेेंं का काम किया था। जिसके कारण पूरे देश मेें सीधी जिले के पत्रकारों की काफी बदनामी हुई है। स्तुति मिश्रा ने बताया कि सोशल मीडिया  में किसी की आपत्तिजनक फोटो बिना संबंधित व्यक्ति के चेहरा छिपाए नहीं डाली जा सकती। सोशल मीडिया में उक्त फोटो सैकड़ो लोगों ने डाली थी किंतु अधिकांश लोगों ने फोटो में आरोपियों के चेहरों को छिपा दिया था किंतु बहुत सारे लोगों ने हूबहू वायरल फोटो डालकर आपराधिक कृत्य किया है। जिसके विरुद्ध कार्यवाई की जानी  बहुत आवश्यक है। ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो सके। जिले के वरिष्ट पत्रकार  आदित्य सिंह ने बताया कि पुलिस अभिरक्षा में आरोपियों की जो अर्र्धनग्र फोटो सोशल मीडिया मेंं वायरल हुई थी उसकी हम निंदा करते हैं और उक्त मामले में शामिल सभी दोषी पुलिस कर्मियों पर कड़ी कार्यवाई की मांग भी करते हैं।  किंतु जिन लोगों ने सोशल मीडिया में भ्रामक जानकारी पोस्ट कर जिले के पत्रकारों को बदनाम करनें की कोशिस की है उनके विरुद्ध भी आपराधिक प्रकरण दर्ज किया जाना चाहिए। क्योंकि  अपराधियों की वायरल फोटो में कोई भी अधिकृत पत्रकार शामिल नहीं था किंतु कुछ लोगों ने फोटो मेें दिख रहे सभी आरोपियों को पत्रकार बनाकर पेश करनें की कोशिस कर पत्रकारों को बदनाम करनें का प्रयास किया है। पुलिस अधीक्षक सीधी को ज्ञापन सौंपने के दौरान जिले की वरिष्ट पत्रकार स्तुति मिश्रा, आदित्य सिंह, उपेन्द्र्र सिंह सोलंकी, अखिलेश पाण्डेय, अटल शुक्ला, अजय पाण्डेय,  हरीश मिश्रा, हरीश द्विवेदी, जनार्दन तिवारी, शरद गौतम, अमित सिंह, नीलांबुुज पाण्डेय, आनंंद अकेला, अरुण गुप्ता, रवीन्द्र पाण्डेय, सूरज शुक्ला, प्रवीण तिवारी, रजनीश मिश्रा, आदर्श गौतम, हरिश्चन्द्र मिश्रा, कृपाशंकर तिवारी आदि भारी संख्या में पत्रकार उपस्थित रहे।