जन शिक्षण संस्था के सहयोग से ज्ञानेश्वर की कश्मकश हुई दूर

0
812

जन शिक्षण संस्था के सहयोग से ज्ञानेश्वर की कश्मकश हुई दूर

के.जी. पाण्डेय, समय INDIA 24, उमरियाप्रदेश के युवाओ को रोजगार के विभिन्न अवसरो से जोड़ने हेतु अनेक संस्था युवाओ के कौसल विकास हेतु जिला स्तर पर अपनी सेवाये निरंतर दे रही है। उन्ही में से जन शिक्षण संस्थान , जन अभियान परिषद और कौसल विकास केंद्र शामिल हैं जो अपने कार्यक्रमों के माध्यम से ग्रामीण युवाओ को रोजगार देने व उनके कौशल विकास को लेकर काम कर रही है । महरोई निवासी ज्ञानेश्वर प्रजापति अपना अनुभव बताते हुए कहते है की मैं आईटीआई की पढ़ाई करके घर पर रह रहा था। परिवार में कोई ज्यादा शिक्षा का प्रभाव नही होने से आगे की पढ़ाई और नौकरी करने की कश्मकश मे समय निकल रहा था। इसी बीच रिलायंस फाउंडेशन सूचना सेवा के माध्यम से जन शिक्षण संस्थान के बारे में जानकारी मिली और कार्यक्रम मे भाग लेने के बाद पता चला की कौशल विकाश हेतु संस्था क्या – क्या काम कर रही है। पूर्व के दिनों एक प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए महरोई ग्राम के युवाओं को प्रशिक्षित करने रिलायंस फ़ाउंडेशन के माध्यम से प्रशिक्षक बतौर कार्य करने नियुक्ति कर दिया गया। उस समय कोरोना महामारी का प्रकोप अपने पीक पर था इसलिए ऐसे मे यह नौकरी भी मेरे लिए डूबते को तिनके का सहारा जैसा रही । अब मै लगातार संस्था के साथ जुड़ कर प्रशिक्षण दे रहा हूँ जिसमे मुझे आर्थिक मदद भी मिल रही है और मेरे ज्ञान का विकास हो रहा है। युवाओ को प्रशिक्षित कर उन्हे उनके भविष्य के लिए तैयार करने पर मुझे आत्म संतुष्टि होती है और युवाओ को अधिक से अधिक आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता हूँ। अतिरिक्त जानकारी हेतु रिलायंस फ़ाउंडेशन का टोल फ्री नम्बर 18004198800 है जिसके माध्यम से सभी विषय पर चर्चा की जा सकती है।

👉 आप क्या ऐसी सच्ची खबरों और कहानी के लिए मेहनत करने वाले पत्रकारों की मदद करना चाहते हैं तो आप मुझे क्लिक करें और एक लिंक ओपन होगा जहा से आप मुझ तक स्वैच्छिक सहयोग पहुंचा सकते हैं। 

ज्ञानेश्वर प्रजापति बताते है कि कोरोना महामारी के दौरान रिलायंस फ़ाउंडेशन की सूचना सेवा से जीवन को दिशा देने वाली सीख मिल गई जिसके कारण पिछले साल से अभी तक मुझे 45000 रुपये का अर्जन हो चुका है । यह लगातार ऐसे ही आगे भी चलता रहेगा साथ ही खेती के कार्यों में पिता का सहयोग भी कर सकूगा।