जिले के नागरिकों के लिए एसपी राकेश सिंह बने असली हीरो, जरूरतमंदो के लिए फरिश्ता

0
1068

 पुलिस प्रशासनिक व्यवस्था से लेकर समाजसेवा तक, रीवा एसपी निभा रहे जिम्मेदारी

जिले के नागरिकों के लिए एसपी राकेश सिंह बने असली हीरो, जरूरतमंदो के लिए फरिश्ता

अमित कुमार गौतम “स्वतंत्र ( समय INDIA 24 – 8839245425 ) रीवा। कोरोना संक्रमण के बढ़ रहे लगातार प्रभाव के बीच जिले के पुलिसकर्मी,  पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह के नेतृत्व में अपनी सेवा दे रहे हैं।  कोरोना काल में बीते एक वर्ष से पुलिसकर्मी फ्रंटलाइन पर रह कर लगातार सुरक्षा प्रोटोकॉल या लॉकडाउन का पालन करा रहे हैं। कानून – व्यवस्था   संभाल रहे  पुलिसकर्मी भी अदृश्य वायरस से लड़ते हुए संक्रमण का शिकार हो गए लेकिन पुलिस अधीक्षक कि कार्यकुशलता पर जिले के पुलिस कर्मी लगातार फ्रंट लाइन में रहकर सेवा दे रहे हैं।

 पुलिसकर्मियों की हौसला अफजाई करते हैं एसपी राकेश सिंह

कोरोना संक्रमण के चपेट में आने का जोखिम उठाकर दिन-रात चिकित्सालयों से लेकर सड़कों बाजारों तक हर स्थान मे अपनी ड्यूटी पर मुस्तैद पुलिसकर्मियों की हौसला अफजाई करने और उन्हें बेहतर ड्यूटी के लिए प्रोत्साहित करने में पुलिस अधीक्षक  राकेश कुमार सिंह कोई कसर नहीं छोड़ रहे।  स्वयं फील्ड में जाकर व्यवस्थाओं का जायजा लेने से लेकर संक्रमित पुलिस कर्मियों व उनके परिवार के लिए सजगता तक पुलिस अधीक्षक हर वो पहल कर रहे हैं, जिससे पुलिस फोर्स का मनोबल ऊंचा रहे। पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह ने कोरोना  संक्रमण से बचाव हेतु सभी जरूरी कदम उठाने, सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर काम करने, लॉकडाउन का सही तरीके से पालन करवाने और थानों में साफ सफाई दुरुस्त रखने का निर्देश दिया है।

जरूरतमंदो के लिए फरिश्ता बन एसपी भी बांट रहे खाद्य पैकेट

लॉकडाउन में गरीबों के लिए सामाजिक संस्था युवा एकता परिषद सहित अन्य सामाजिक संस्था फरिश्ता बन रही हैं ।  कोरोना कॉल मे  पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह पुलिस विभाग कि जिम्मेदारी बखूबी निभाने के साथ सामाजिक कार्य करने से भी पीछे नहीं हट रहे है। लॉकडाउन के बाद जिले के कई परिवारों के सामने दोनों समय के भोजन का संकट उत्पन्न हो गया है। पैसे की कमी के कारण परिवार का भरण पोषण नहीं कर पा रहे लोगों को भोजन उपलब्ध कराने का जिम्मा  पुलिस अधीक्षक के साथ ही जिलेभर के सामाजिक संगठन बखूबी निभा रहे हैं। इस कोरोना कॉल दौरान पुलिस अधीक्षक राकेश सिंह जिले कि सामाजिक संस्थाओं के साथ मिलकर  नगर के विभिन्न जगहों पर  दिव्यांग, विधवा और गरीब जरूरतमंद को खाद्य सामग्री  वितरण करते हुए दिखे ।

आपदा मे अवसर तलाशने वालो पर एसपी राकेश सिंह का शिकंजा

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस  संक्रमण के दौरान मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में नशीली और प्रतिबंधित दवाओं का कारोबार चल रहा है। इस आपदा मे कई ऐसे भी हैं जिन्हें अपने कारोबार को बढ़ाने अवसर मिल गया है और अवैध कारोबारियों से रीवा जिला भी अछूता नहीं रहा । अवैध कारोबारियों के खिलाफ शिकायत व सूचना पर प्रशासनिक कार्यवाही हुई ही साथ ही ड्रग माफियो पर पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह ने शिकंजा कसा है।

जरूरी सूचनाए सांझा करने के साथ लोगों की समस्याओं को दूर कर रहे एसपी

रीवा जिले के कई प्रशासनिक अधिकारी भी सोशल मीडिया पर सक्रिय रहते हैं लेकिन सोशल मीडिया में औसतन पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह ज्यादा सक्रिय रहते हैं। कारण यह भी माना जा रहा है कि कोरोना वायरस के कारण जिले में लगे लॉकडाउन से लोगों को शुरूआत के दिनों में परेशानी उठानी पड़ी थी। लॉकडाउन के दौरान लोगों को जानकारी उपलब्ध कराने में जिले के कुछ अधिकारी सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्म पर काफी सक्रिय हो गए हैं और जरूरी सूचनाए सांझा करने के साथ लोगों की समस्याओं को दूर करने का प्रयास भी कर रहे हैं।

जवानों को तनावमुक्त रखने योगा करने एसपी की सलाह

पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह ने अधीनस्थ जवानों के मनोबल व आत्मविश्वास को निरंतर बढ़ाते रहने के लिए भी ध्यान देते रहते हैं। विभाग के कुछ कर्मचारियों ने निजी चर्चा के दौरान बताया कि शरीर को फिट रखने तनाव मुक्त रहने के लिए पुलिस अधीक्षक द्वारा समय – समय पर  जवानों को योग, व्यायाम, खेल व मनोरंजन के लिए सलाह दी जाती रहती है। उनका मानना होता है कि हम जब पूर्ण स्वस्थ्य होगे तभी अपने कर्तव्यों का पालन निष्ठा के साथ कर पाएंगे। ऐसे में स्वस्थ्य होना और शारीरिक क्षमता ऊर्जा बनाए रखना आवश्यक है ।