आम बजट को भाजपा ने बताया सर्वजन हिताय, कांग्रेस ने कहा बजट में नही है आम के लिए ख़ास

1
477

आम बजट को भाजपा ने बताया सर्वजन हिताय, कांग्रेस ने कहा बजट में नही है आम के लिए ख़ास

अमित कुमार स्वतंत्र (8839245425) समय INDIA 24 @ सीधी। आम बजट 2022 प्रस्तुत होने पर भाजपा और कांग्रेस सहित अन्य राजनैतिक दल आमने सामने है। बजट को भाजपा सर्वजन हिताय बता रही है तो कांग्रेस इसे आम जनता के लिए बजट में कुछ खास नही देख पा रही है। जिला भाजपा ने बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करतें हुए कहाँ कि आजादी के अमृत महोत्सव में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन द्वारा पेश बजट देशवासियों के लिए स्वर्णिम और अमृतकाल का बजट है, जो अगले 25 साल की बुनियाद रखेगा। आजादी के 75 साल से 100 साल तक ब्लू प्रिंट बजट में पेश किया गया है , जिसका हम स्वागत करतें है । बजट में किसान हितैषी, रोजगारोन्मुखी, लघु और कुटीर उद्योग को पोषित करने वाला, विद्यार्थीयो के लिए कल्याणकारी ,एनिमेशन, विजुअल इफेक्ट्, गेमिंग और कॉमिक्स यानी एवीजीसी सेक्टर में रोजगार की असीम संभावनाएं हैं। ऐसे में एवीजीसी प्रमोशन टास्क फोर्स इससे जुड़े सभी स्टाक होल्डर्स के साथ बातचीत होगी। ब्लॉकचेन और अन्य टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करते हुए इसी साल आर बीआई डिजिटल रुपया जारी करेगी। इससे इकोनॉमी को बहुत अधिक बढ़ावा मिलेगा। क्रिप्टोकरेंसी से होने वाली कमाई पर 30% का टैक्स लगाया जाएगा। निजी निवेशकों की क्षमता बढ़ाई जाएगी जिसके लिए केंद्रीय बजट में 5.54 लाख करोड़ रुपए से बढ़ाकर 7.55 लाख करोड़ का प्रावधान कर दिया गया है। युवाओं के लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध होगें । नेशनल हाईवे नेटवर्क 25 हजार किमी तक बढ़ाया जाएगा। इस मिशन के लिए 20 हजार करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। जिसमें 60 लाख नए रोजगार का सृजन करने होगें। गरीबों के लिए 80 लाख घर बनाए जाएंगे,जिसमें  48000 करोड़ रुपए का प्रावधान है।अब ई-पासपोर्ट जारी किए जाएंगे, जिनमें चिप लगी होगी। विदेश जाने वालों को सहूलियत होगी।

बजट को लेकर किसने क्या कहा –

इस बजट से पूंजी निवेश से रोजगार बढ़ाने में बड़े उद्योगों और एम एस एम ई दोनों से मदद मिलती है। महामारी के असर से बाहर निकलने के लिए यह जरूरी है। निजी निवेशकों की क्षमता बढ़ाई जाएगी। इसके लिए केंद्रीय बजट में 5.54 लाख करोड़ रुपए से बढ़ाकर 7.55 लाख करोड़ का प्रावधान कर दिया गया है इससे युवाओं के लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध होगें ।

– शरदेन्दु तिवारी
भाजपा प्रदेश महामंत्री एवं विधायक चुरहट

बजट में शक्ति मास्टर प्लान के तहत एक्सप्रेसवे बनेंगे। नेशनल हाईवे नेटवर्क 25 हजार किमी तक बढ़ाया जाएगा। इस मिशन के लिए 20 हजार करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। जिसमें 60 लाख नए रोजगार का सृजन करने होगें। गरीबों के लिए 80 लाख घर बनाए जाएंगे,जिसमें  48000 करोड़ रुपए का प्रावधान है।अब ई-पासपोर्ट जारी किए जाएंगे, जिनमें चिप लगी होगी। विदेश जाने वालों को सहूलियत होगी और डाकघरों में भी अब एटीएम मिलेंगे।

– इंद्रशरण सिंह चौहान
                                      भाजपा जिलाध्यक्ष, सीधी

यह आम बजट आमजनों के हित में है, किसानों का विशेष ध्यान रखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में बनाए गए बजट में हुए 2030 तक सौर क्षमता के 280 गीगावाट के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए 19500 करोड़ रूपए का अतिरिक्त आवंटन किया गया है। बजट में किसानों, गरीबों, आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों, मध्यमवर्गीय के लिए बेहतर व्यवस्था बनाना आत्मनिर्भर भारत की दिशा में साहसिक बजट है।

– रीति पाठक
भाजपा नेत्री एवं सांसद, सीधी – सिंगरौली

एम एस पी का भुगतान सीधे किसानों के खाते में किया जाएगा। गंगा के किनारों के 5 किमी. के दायरे में आने वाली जमीन पर ऑर्गेनिक खेती को बढ़ावा दिया जाएगा। खेती की जमीन के दस्तावेजों का डिजिटलीकरण होगा। राज्यों को एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी के सिलेबस बदलना, देश के इतिहास में क्रांतिकारी परिवर्तन होगा, ताकि खेती की लागत को कम किया जा सके। इस प्रकार का बजट स्वागत योग्य है।

– कुंवर सिंह टेकाम
   भाजपा नेता एवं विधायक विधानसभा धौहनी

बजट छात्रों के लिए समर्पित बजट है। महामारी के दौरान स्कूल बंद रहने से गांव के बच्चों को दो साल शिक्षा से वंचित रहना पड़ा। पीएम ई-विद्या के तहत ऐसे बच्चों के लिए एक क्लास-एक टीवी चैनल प्रोग्राम के तहत अब चैनल 12 से बढ़ाकर 200 कर दिए जाएंगे। ये चैनल क्षेत्रीय भाषाओं में होंगे।

    – सुरेन्द्र मणि दुबे
जिलाध्यक्ष – भारत स्काउट और गाइड संघ सीधी

भाजपा के सरकार में आता तो आम बजट है लेकिन बजट में आम जनता के लिए कोई ख़ास नहीं रहता है। यह बजट भाजपा सरकार के पूर्व में आये बजटॊ कि तरह ढकोसला साबित होगा। देश में बेरोजगारी दर बढ़ रही है, देश कर्ज में डूब रहा है। आवश्यकता है देश में शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, इन्फ्रास्टचार, उद्योग, सड़क, कृषि आधारित, किसानो को मजबूत करने, सुरक्षा और देश को कर्ज से उबारने वाला बजट।

– सतीश सिंह बघेल
        जिला महामंत्री – जिला कांग्रेस कमेटी सीधी

अब आम आदमी के लिए आम बजट का कोई खास मतलब नही बचा है l पहले सरकार द्वारा पेश किए जाने वाले बजट को सुनकर आम आदमी यह जानना चाहता था कि क्या सस्ता हुआ क्या महंगा किया गया? खाद्यान्न , कपड़ा, मशीनरी , कम्प्यूटर , मोबाइल, बिजली और बिजली के सामान , डीज़ल-पेट्रोल , खाद-बीज , किराया भाड़ा , टेक्स आदि के दाम बढ़ने-घटने के लिए हमें बजट का इंतज़ार करना पड़ता था , लेकिन अब ऐसी बात नहीं है l इन सब मे साल में चार-पांच वृद्धि हो जाती है। बजट पेश किया जाना सिर्फ आंकड़ों की बाजीगिरी भर है l

    – उमेश तिवारी
संयोजक – टोको-रोंको-ठोंको क्रांतिकारी मोर्चा

केंद्र सरकार का यह बजट जन आकांक्षाओं पर खरा है। बजट में महिलाओं और युवाओ के हितो का भी ध्यान रखा गया है। बजट में नये भारत का विज़न और समृद्ध, आत्मनिर्भर और डिजिटल भारत का आधार स्पष्ट रूप से प्रतीत होता है।

– मीनाक्षी मिश्रा
       जिला मंत्री – भाजपा महिला मोर्चा सीधी

पेश आम बजट में बेरोज़गारी पर कुछ नही, जो देश की प्रमुख समस्या है।कृषि क्षेत्र पर कुछ नही जिससे देश चलता है, जिससे कि किसानों को राहत पहुंचे, किसी को कोई राहत नही,आम आदमी को कोई राहत नही। इस बजट को देखकर यह लगता है, कि सिर्फ़ बड़े उद्योगपतियों को लाभ पहुँचाने का बजट है।

– विवेक सोनी
        जिलाध्यक्ष – आम आदमी पार्टी, सीधी

1 COMMENT

Comments are closed.